आओ ब्रज को जानें!

ब्रज की तीर्थ संस्कृति पर केंद्रित तीन दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन वृन्दावन में किया जा रहा है। ब्रज की सांस्कृतिक विरासत और लोक संस्कृति को समझने के लिए ब्रज रसिकों के लिए यह खास मौका है। 

ब्रज संस्कृति शोध संस्थान कर रहा आयोजन

कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए संस्थान के सचिव लक्ष्मी नारायण तिवारी। साथ हैं परिधि डेविड मैसी, स्नेहा नगरकर, गोपाल शरण शर्मा व अन्य।

इस तीन दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन ब्रज संस्कृति शोध संस्थान के तत्वावधान में किया जा रहा है। यह संस्थान श्री लक्ष्मीनारायण तिवारी के कुशल निर्देशन में पिछले एक दशक से अधिक समय से वृन्दावन में संचालित है। यह संस्थान ब्रज के इतिहास, पुरातत्व, कला, साहित्य और लोक संस्कृति के शोधकर्ताओं के लिए खासा महत्त्व रखता है। यहां संग्रहित ग्रन्थ, दुर्लभ पांडुलिपियां, सिक्के, ताम्रपत्र आदि सामग्री देशभर के अध्येताओं को यहां आने को प्रेरित करती है। संस्थान के सचिव श्री लक्ष्मीनारायण तिवारी की सकारात्मक सोच और सहयोगी रवैया यहां आने वाले अध्येताओं का कुशल मार्गदर्शन करता है।

कब और कहां होगा कार्यक्रम

कार्यक्रम विवरण।

यह तीन दिवसीय सम्मेलन ब्रज संस्कृति शोध संस्थान, श्रीगोदाविहार मन्दिर परिसर वृन्दावन में आयोजित होगा। यह कार्यक्रम श्रीगोदाविहार पीठाधीश्वर स्वामी वृन्दावन आचार्यजी महाराज के पावन सानिध्य में आयोजित होगा। कार्यक्रम 6 दिसम्बर 2019 से 8 दिसंबर 2019 तक चलेगा। 

ये विद्वान/अध्येता करेंगे शिरकत

श्री विनीत नारायण (दिल्ली), श्रीमती अनघा श्रीनिवासन (वृन्दावन), डॉ कृष्णचन्द्र गोस्वामी ‘विभास’ (भरतपुर), श्री जगतानंद दास (वृन्दावन), श्री बृजगोपाल राय ‘चंचल’ (कोसी), पं श्री उदयशंकर दुबे (सन्त रविदास नगर), डॉ श्रीकृष्ण जुगनू (उदयपुर), आचार्य श्री विष्णु मोहन नागार्च (वृन्दावन), उमेश शर्मा (वृन्दावन), श्री चंद्रप्रकाश शर्मा (वृन्दावन), श्री बी के सिंहल (दिल्ली), डॉ देवेंद्र कुमार सिंह (वाराणसी), डॉ रंजूश्री घोष (कोलकाता), डॉ बीना सेंगर (औरंगाबाद), डॉ शकुंतला गावडे (मुंबई), डॉ वर्षा सिंह (कानपुर), डॉ मीनाक्षी जोशी (दिल्ली), सुश्री दीति रंजन रॉय (दिल्ली), डॉ तृप्ती श्रीवास्तव (दिल्ली), डॉ कंचन लवानियां (अलीगढ़), डॉ इंदुबाला (अहमदाबाद), डॉ यशवेंद्र ढाका (बिजनौर), श्री विवेक सिंह (दिल्ली), डॉ चित्रगुप्त (झांसी), श्री नवनीत मिश्रा (दिल्ली), श्री गौरांग दास (पुणे), सुश्री पूर्णिमा (दिल्ली), सुश्री कुशाग्री अरोड़ा (वृन्दावन), सुश्री हितांगी ब्रह्मभट्ट (बड़ौदा), डॉ आरती शुक्ला (गुरुग्राम)।

सात सत्रों में शोध अध्येता करेंगे 24 शोध पत्र प्रस्तुत

ब्रज संस्कृति शोध संस्थान गोदा विहार, वृंदावन के तत्वावधान में वृंदावन में ब्रज के अध्येताओं के राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन 6 से 8 दिसंबर पर्यंत किया जाएगा जिसमें ब्रज की तीर्थ संस्कृति पर केंद्रित राष्ट्रीय संगोष्ठी, प्रदर्शनी, सम्मान समारोह एवं हेरिटेज वॉक आदि कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

शोध छात्रों को मिलेगी नई दृष्टि

देश भर के विश्वविद्यालयों से शोध अध्येता ब्रज के ऐतिहासिक सांस्कृतिक पुरातात्विक आदि पक्षों पर विचारों का आदान प्रदान करने हेतु संस्थान में एकत्रित होंगे इस सम्मेलन में विचारों के मंथन के बाद जो निष्कर्ष निकलेगा, उससे ब्रज से जुड़े विषयों पर अध्ययन करने वाले शोध छात्रों को एक नई दृष्टि मिलेगी।

प्रदर्शनी होगी विशेष आकर्षण का केंद्र

वृंदावन के 18 वीं शताब्दी के संत भगवत रसिक देव के पद पर आधारित वृंदावन के प्रसिद्ध सप्त देवालय पर केंद्रित चित्र प्रदर्शनी “सप्त निधि” इस महोत्सव का विशेष आकर्षण होगी। इस प्रदर्शनी में वृंदावन के सप्त देवालय के दुर्लभ चित्र एवं अभिलेखीय सामग्री को प्रदर्शित किया जाएगा।

शोध अध्येता करेंगे वृंदावन धरोहर परिदर्शन

देशभर से आए शोध अध्येता सम्मेलन के अंतर्गत 8 दिसंबर रविवार को प्रातः 10:00 बजे से वृंदावन के प्राचीन मंदिरों का ऐतिहासिक, पुरातात्विक सांस्कृतिक एवं स्थापत्य के दृष्टिकोण से परिभ्रमण (हेरिटेज वॉक) करेंगे संस्थान द्वारा हेरिटेज वॉक की यह अनूठी पहल संस्थान द्वारा प्रथम बार आयोजित की जा रही है, इससे शोध अध्येताओं को वृंदावन को जानने में सहायता प्राप्त होगी।

ब्रज संस्कृति सम्मान समारोह

ब्रज संस्कृति शोध संस्थान द्वारा ब्रज संस्कृति के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाओं हेतु विद्वानों, अध्येताओं एवं कलाकारों का प्रति वर्ष की भाँति इस वर्ष भी सम्मान किया जाएगा। यह सम्मान समारोह सुदामा कुटी के महंत सुतीक्षण दास जी महाराज के पावन सानिध्य में संपन्न होगा। यह सम्मान तीन श्रेणियों ब्रज निधि, ब्रज संस्कृति अध्येता एवं ब्रज संस्कृति सेवी के अंतर्गत प्रदान किए जाएंगे।

यह होंगे सम्मानित

ब्रज निधि सम्मान 2019 – सरदार श्री कन्हैया लाल उपाध्याय वृंदावन, श्री संदीपन विमल कांत नगर मथुरा, डॉ. रंजीता दत्ता दिल्ली, डॉ. उमेश शर्मा वृन्दावन, डॉ. आनंद शर्मा आगरा।

ब्रज संस्कृति सेवी सम्मान 2019- ब्रज गोपाल गुप्ता वृंदावन, श्रीमती ज्योति शर्मा हरिद्वार।

ब्रज संस्कृति अध्येता सम्मान 2019- सुश्री परिधि डेबिड मैसी दिल्ली, श्री सुशांत भारती दिल्ली, श्री योगेंद्र सिंह छोंकर बरसाना।

Spread the love

व्रज से ब्रज तक !

ब्रजभूमि का प्राण है श्रीराधाकृष्ण तत्व, इसी लिए यह भूमि सदैव से ही भारतीय साधकों के लिए आकर्षण का केन्द्र […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!