भरतपुर राज्य के दरबारी कवि (भाग दो)

पिछले भाग में हमने भरतपुर राज्य के मुख्य दरबारी कवियों में से महाकवि सूदन, आचार्य सोमनाथ, कलानिधि भट्ट, शिवराम, कृष्ण […]

भरतपुर राज्य के दरबारी कवि (भाग एक)

भरतपुर दरबार ने बड़ी संख्या में कवियों और साहित्यकारों को आश्रय दिया। यहां के अधिकांश शासक साहित्यानुरागी थे। राज्य के […]

ब्रज संस्कृति शोध संस्थान : एक परिचय

ब्रज संस्कृति शोध संस्थान, वृन्दावन के एक आयोजन के दौरान मंचासीन अतिथिगण।

शायर कहो नज़ीर कहो आगरे का है…

            नजीर अकबराबादी! एक ऐसा शायर जिसकी रचनाएं अवाम की आवाज बुलन्द करती हैं। नजीर उस दौर के इकलौते शायर […]

मुरीदे कुतुबुद्दीन हूँ

मुरीदे कुतुबुद्दीन हूँ खाक-पाए फखरेदीं हूँ मैं, अगर्चे शाह हूँ, उनका गुलामे-कमतरी हूँ मैं। बहादुर शाह मेरा नाम है मशहूर […]

कभी आबाद घर यां थे

जहां वीराना है, पहले कभी आबाद घर यां थे, शगाल अब हैं जहां बसते, कभी रहते बशर यां थे। जहां […]

कोई क्या किसी से लगाये दिल

कभी बन-संवर के जो आ गये तो बहारे हुस्न दिखा गये, मेरे दिल को दाग़ लगा गये, यह नया शगूफ़ा […]

श्री शिव चालीसा

।।दोहा। । श्री गणेश गिरिजा सुवन, मंगल मूल सुजान। कहत अयोध्यादास तुम, देहु अभय वरदान॥ जय गिरिजा पति दीन दयाला।  […]

श्री दुर्गा चालीसा

नमो नमो दुर्गे सुख करनी।  नमो नमो अंबे दुःख हरनी॥ निरंकार है ज्योति तुम्हारी।  तिहूं लोक फैली उजियारी॥ शशि ललाट […]

श्री हनुमान चालीसा

दोहा श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि । बरनउँ रघुबर बिमल जसु जो दायकु फल चारि ॥ बुद्धिहीन […]

गाँधीजी की ब्रज यात्राएं

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का ब्रज से लगाव रहा। वे कई बार यहां आए। इस वर्ष जब सारा राष्ट्र उनकी 150 […]

मथुरा जिले से प्रकाशित पुराने पत्र पत्रिकाएं

मथुरा जिले के सबसे पहले प्रकाशित होने वाला पत्र था नैरंग मज़ामिन (Nairang Mazamin), जो एक मासिक अखबार था यह […]

दो खामोश आंखें -32

योगेन्द्र सिंह छोंकर  गणेश जी का दूध पीना सागर जल मीठा होना रोटी प्याज़ वाली डायन कटे बैंगन में ॐ […]

error: Content is protected !!